BCCI ने खेल रत्न के लिए रोहित शर्मा को किया नॉमिनेट; धवन, इशांत शर्मा और दीप्ति को अर्जुन अवार्ड

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शनिवार को भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को प्रतिष्ठित राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार 2020 के लिए नामित किया है, जबकि तेज गेंदबाज इशांत शर्मा, शिखर धवन और भारत की महिला क्रिकेटर दीप्ति शर्मा को अर्जुन पुरस्कार के लिए नामित किया गया है।

बोर्ड ने इस संबंध में एक आधिकारिक बयान जारी किया है। खेल मंत्रालय द्वारा बताए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार खिलाड़ियों को नामित किया गया है, जिन्होंने 1 जनवरी, 2016 से 31 दिसंबर, 2019 तक की अवधि के लिए संबंधित पुरस्कारों के लिए निमंत्रण मांगे थे।

रोहित शर्मा विश्व कप के वनडे प्रारूप में पांच शतक बनाने वाले इतिहास के पहले खिलाड़ी भी बने हैं। उन्हें 2019 के लिए ICC ODI क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी चुना गया। उन्होंने अपने पहले टेस्ट में दो शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी बनने का भी रिकॉर्ड बनाया है और चार T20 शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने। वे तीन बार वनडे में दोहरा शतक भी लगा चुके हैं।

इसी बीच, रोहित शर्मा के जोड़ीदार सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के पास रेड-बॉल क्रिकेट के डेब्यू मैच में सबसे तेज़ शतक बनाने का रिकॉर्ड है। वह आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में लगातार गोल्डन बैट्स जीतने वाले दुनिया के इकलौते बल्लेबाज भी हैं। अन्य रिकॉर्डों में, धवन 50 ओवर के प्रारूप में 2000 और 3000 रन पूरे करने वाले सबसे तेज भारतीय बल्लेबाज हैं और उसी प्रारूप में 4000 और 5000 रन बनाने वाले देश के दूसरे सबसे तेज बल्लेबाज हैं।

गेंदबाजों में ईशांत शर्मा भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की अगुवाई करते हैं। इशांत के नाम एशिया के बाहर एक भारतीय तेज गेंदबाज के द्वारा सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड है।

ऑलराउंडर, दीप्ति शर्मा खेल के दोनों विभागों में प्रभावशाली रही हैं। वह वर्तमान में भारतीय महिला क्रिकेटरों के बीच सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड रखती हैं और एकदिवसीय में छह विकेट लेने वाली देश की एकमात्र महिला स्पिनर भी हैं।

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने नामांकन पर बोलते हुए कहा: हमने खिलाड़ियों को नामांकित करने से पहले  विभिन्न मापदंडों पर विचार किया। और इसके साथ साथ उनके आंकड़ों के माध्यम से हम अंतिम फैसले पर पहचे। उन्होंने कहा कि रोहित शर्मा ने एक बल्लेबाज के रूप में नए कीर्तिमान और मानदंड स्थापित किए हैं और उन्होंने उन सफलताओं को हासिल किया है जिनके बारे में सोचा जाता है कि यह खेल के छोटे प्रारूपों में संभव ही नहीं था। ”

हमें लगता है कि वह अपनी प्रतिबद्धता, आचरण, निरंतरता और अपने नेतृत्व कौशल के लिए प्रतिष्ठित खेल रत्न पुरस्कार पाने के योग्य हैं। इशांत शर्मा टेस्ट टीम के सबसे वरिष्ठ सदस्य हैं और उनका योगदान भारतीय टीम को टेस्ट में लंबे समय तक नंबर 1 रखने में महत्वपूर्ण रहा है।

उन्होंने कहा, ‘तेज गेंदबाजों के चोटिल होने का खतरा बहुत होता है और ईशांत शर्मा भी काफी बार चोटिल हुए लेकिन उन्होंने हर बार पार्क में वापसी करने के लिए कड़ा संघर्ष किया है। शिखर लगातार शीर्ष पर बने हुए हैं और आईसीसी स्पर्धाओं में उनका प्रदर्शन महत्वपूर्ण रहा है। दीप्ति एक वास्तविक ऑलराउंडर हैं और टीम में उनका योगदान महत्वपूर्ण रहा है।

 

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: