पीएम के 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की मंत्रियों ने कि सराहना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार को घोषित किए गए मेगा 20 लाख करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज में लॉकडाउन-पस्त अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए एक बड़ा कदम है। यह पैकेज भारत की जीडीपी का 10% है। और भारत अब दुनिया के उन ताकतवर देशों की सूची में शामिल हो चुका जिन्होंने अपनी जीडीपी का इतना बड़ा हिस्सा राहत पैकेज के लिए घोषित किया है। पीएम के इस आर्थिक पैकेज की सभी सराहना कर रहे  हैं।

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा का स्वागत करते हुए कहा कि इससे मजदूरों, किसानों और उद्योगों को कोरोनोवायरस से बने संकट से बाहर आने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा, “हम सभी पीएम के आभारी हैं कि इस संकट के दौरान उन्होंने गरीबों, किसानों, मजदूरों, MSMEs, प्रवासी कामगारों, स्ट्रीट वेंडर्स और दिहाड़ी मजदूरों को सहायता देने के लिए 20 लाख करोड़ के एक बहुत बड़े आर्थिक पैकेज की घोषणा की।” उन्होंने कहा, “मुझे विश्वास है कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में हम कोरोनोवायरस के कारण पैदा हुए संकट को दूर करेंगे।”

IMG 20200513 120324

Pic Credit :- ANI

उपराष्ट्रपति  वेंकैया नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 20 लाख करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा “COVID-19 महामारी द्वारा उत्पन्न चुनौतियों पर काबू पाने में एक लंबा रास्ता तय करेगी।”

उन्होंने कहा  प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी जी द्वारा अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए ये बहुत अच्छा कदम है। नायडू ने कहा कि  भारत को आत्मनिर्भर और लचीला बनाने के लिए घोषित  किए गए 20 लाख करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज का हम स्वागत करते हैं।

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि  मैं माननीय पीएम श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए घोषित किए गए 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष वित्तीय पैकेज का स्वागत करता हूँ।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 20 लाख रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा के लिए धन्यवाद दिया है। रावत ने कहा कि यह पैकेज भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मार्ग प्रशस्त करेगा।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) की ओर से जारी बयान में कहा गया कि “श्रमिक, किसान, कुटीर उद्योग को इस पैकेज से बड़ी राहत मिलेगी। समाज के सभी वर्ग इस पैकेज से लाभान्वित होंगे। स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा।”

Leave a Reply

%d bloggers like this: