पतंजलि ने कोरोना बीमारी को खत्म करने के लिए आयुर्वेदिक “कोरोनिल” नाम की नई वैक्सीन तैयार की:

1592895195 6905

कोरोना संक्रमण के अभी तक से समय मे सबसे अधिक मामले सामने आए है । अंतराष्ट्रीय स्वास्थ विभाग के अनुसार आज लगभग 1,50,000 कोरोना संक्रमण मामले सामने आए है जिसके हिसाब पूरे विश्व में कोरोना की गिनती 9 बिलियन तक पहुँच चुकी है।

अंतराष्ट्रीय स्वास्थ विभाग की चीफ साइंटिस्ट डॉ. सौम्या स्वामीनाथन का कहना है कि “अगले साल तक लगभग 2 बिलियन वैक्सीन डोस तैयार हो जाएंगी जबकि अभी भी कुछ वैज्ञानिक वैक्सीन को बनाने में लगे हुए है ताकि SARC- COV-2 से बच सके। कोरोना को जाने में कम से कम 12 से 18 महिने का समय लग सकता है”।

soumya swaminathan

सौम्या स्वामीनाथन से कहा कि “पिछले महीने वैश्विक दवा प्रमुख फाइजर. ने कहा था कि 2020 के अक्टूबर तक वैक्सीन तैयार होने का अनुमान है”। वर्तमान में 100 से ज़्यादा वैक्सीन पर काम चल रहा है।

कोरोना वायरस उपचार:

कोरोना वायरस में एक नया बदलाव देखा गया है जिसमे ख़बर यह है कि पतंजलि ने एक कोरोनिल टेबलेट नाम की आयुर्वेदिक दवाई ढूंढ ली है। यह वैक्सीन पतंजलि योगपीथ हरिद्वार में बनाई गई है।पतंजलि ग्रुप का कहना है कि यह वैक्सीन को खाने के 14 दिन बाद अपना असर दिखाएगी।

910464 patanjali ramdev

इस वैक्सीन को बनाने के बाद बाबा रामदेव का कहना है कि “ हमने सबसे पहले आयुर्वेदिक दवाई बना ली है जिसका नाम कोरोनिल है, यह वैक्सीन पूरी तरीके से लाभदायक है ,क्योकि हमने इसके परिणाम देखे है, जोकि 3दिन में 69% लोग कोरोना से ठीक हुए है जबकि 7 दिन में 100%मरीज़ ठीक हुए है”।

कोरोना वायरस वैक्सीन: गंभीर कोरोना वायरस से बचाव के लिए MMR शॉट लें:

कोरोना से बचने के लिए शोधकर्ताओं ने कहा कि “M M R वैक्सीन का प्रशासन नम करने के लिए एक निवारक उपाय के रूप में कार्य कर सकता है। वायरस के संक्रमण से जुड़ी स्पैटिक सूजन से बचा सकता है”।

Leave a Reply

%d bloggers like this: