मुठभेड़ में हिज्ब-उल-मुजाहिदीन का शीर्ष कमांडर हुआ ढेर

29 जून सोमवार को सुबह अनंतनाग जिले में हुई मुठभेड़ में पाकिस्तान स्थित आतंकी समूह हिज्ब-उल-मुजाहिदीन के एक शीर्ष कमांडर सहित तीन आतंकवादी मारे गए।

सोमवार सुबह अनंतनाग जिले जवानों और आतंकियों में हुई मुठभेड़ में पाकिस्तान में स्थित आतंकी समूह हिज्ब-उल-मुजाहिदीन के एक शीर्ष कमांडर सहित तीन आतंकवादी मौत के घाट उतार दिए गए।

जम्मू और कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा RR यूनिट और CPRF के साथ अनंतनाग पुलिस द्वारा खुल्ले चोहर रानिपोरा अनंतनाग में आज के ऑपरेशन में एक जिला कमांडर और एक हिजबुल कमांडर मसूद सहित दो LET आतंकवादी मारे गए हैं जो जम्मू क्षेत्र के डोडा जिले के थे। जम्मू का डोडा जिला एक बार फिर आतंकवादियों से पूरी तरह से मुक्त हो गया है क्यों की मसूद आखिरी बार डोडा जिले का आतंकवादी था।

डीजीपी सिंह ने कहा कि मसूद डोडा पुलिस द्वारा दर्ज बलात्कार मामले में शामिल था और तब से फरार था। “वह बाद में हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया था।

सूत्रों ने अन्य दो मारे गए आतंकवादियों की पहचान तारिक़ खान अनंतनाग से और कुलगाम के नदीम के रूप में की। हालांकि, आधिकारिक पुष्टि अभी भी प्रतीक्षित है।

इन तीन आतंकवादियों के एनकाऊंटर के साथ  घाटी में इस साल अब तक खत्म हो चुके आतंकवादियों की संख्या 116 हो गई है, जिसमें विभिन्न आतंकी संगठनों के 7 ऑपरेशनल कमांडर शामिल हैं।

यह जून के महीने की 13 वीं मुठभेड़ थी और इस महीने में अब तक कश्मीर घाटी में 40 से अधिक आतंकवादी मारे गए हैं। पाकिस्तान स्थित आतंकी समूह हिजबुल मुजाहिदीन सुरक्षा बलों का मुख्य निशाना बना रहा। हम आपको बता दें कि हिजबुल के सबसे लंबे समय तक जीवित संचालन कमांडर रियाज नाइकू भी 2020 में मारा गया था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: