COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए कोयम्बटूर की कपड़ा कंपनी एंटी-वायरल फैब्रिक विकसित कर रही है

कोयम्बटूर स्थित एक टेक्सटाइल कंपनी ने कोरोवायरस के प्रसार को रोकने के लिए एक एंटीवायरल फैब्रिक विकसित करने का दावा किया है।

कपड़ा कंपनी ने कपड़े को विकसित करने के लिए एक स्विस कंपनी के साथ मिलकर एक एंटी-वायरस ट्रीटमेंट तकनीक, वीरो ब्लॉक की शुरुआत की है। इस तकनीक का उपयोग उन कपड़ों पर किया जा रहा है जो वायरस के संपर्क में आने के 3 मिनट के भीतर वायरस को मारते हैं या निष्क्रिय करते हैं।

कंपनी के एमडी सुंदर रमन ने ANI को बताया, की “SARS-CoV-2 वायरस पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सामग्री का परीक्षण किया गया है। यह रसायन अनोखा है क्योंकि  को इसे वायरस को खत्म करने में मात्र 3 मिनट लगते हैं”।

प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए, उत्पाद का उपयोग सस्ती कीमत पर N95 मास्क की एक श्रृंखला के निर्माण के लिए किया जा रहा है और इन N95 मास्क में 10 वाश साइकल होने का दावा भी किया गया है।

सुंदर रमन ने आगे कहा कि जब COVID-19 का संकट देश में आया था तब हम देश में PPE coveralls के निर्माण के लिए सबसे शुरुआती प्रवेशकों में से थे, क्योंकि हमने सीम-सीलिंग तकनीक का उपयोग करके सामग्री और उत्पाद दोनों के निर्माण की क्षमता विकसित करने के लिए खुद को प्रेरित किया था।

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: