मुंबई में फंसे प्रवासी, ऑटो रिक्शा में जा रहे बिहार और झारखंड

अपने घरों तक पहुंचने के लिए व्याकुल लोग महाराष्ट्र से अपने घर जाने के लिए ऑटोरिक्शा का उपयोग कर रहे हैं। मुंबई में फंसे ऑटो चालक, उनके परिवार और प्रवासी बिहार और झारखंड जाने के लिए ऑटो का इस्तेमाल कर  रहे हैं।

भारतीय सरकार लोगो को उनके राज्य पहुंचाने के लिए ट्रेन चलवा रही है लेकिन इसके बावजूद मुंबई में काम करने वाले पांच व्यक्ति बिहार के मधुबनी जिले में अपने गाँव की ओर एक ऑटो से जा रहे हैं।

विकल्पों और संसाधनों की कमी महसूस करते हुए, बिहार के प्रवासियों ने एएनआई से बात करते हुए अपने विचार साझा किए।

उनमें से एक धनंजय कुमार ने कहा, “मैं मुंबई में फूड डिलिवरी एग्जीक्यूटिव के रूप में काम करता हूं। हमने लॉकडाउन को खत्म करने के लिए दो महीने इंतजार किया। जब हमें महसूस हुआ कि राज्य सरकार कुछ नहीं करेगी, तो हमने इस यात्रा को करने का फैसला किया।

इस बीच, महाराष्ट्र से ऑटो चालकों से जुड़े एक समूह ने लॉक डॉउन के बाद काम नहीं मिलने के कारण शहर छोड़ कर झारखंड की ओर जा रहे हैं।

ऑटो चालक ने कहा मैं पिछले कई हफ्तों से बिना काम के हूं। बिना पैसे के टिकना मुश्किल है। इसलिए, मैं अपने परिवार के साथ रांची, झारखंड लौट रहा हूं। हम आमतौर पर रात को फुटपाथ पर सोते हैं और सुबह अपने घर की ओर जाने लगते हैं।” कभी-कभी, हमें रास्ते में लोगों द्वारा भोजन भी मिलता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: