पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार केरल की हथिनी की मौत का तात्कालिक कारण डूबना था, जो फेफड़ों की विफलता का कारण बना

Pic credit: ANI

पलक्कड़ (केरल) : मन्नारक्कड़ वन प्रभाग में मादा जंगली हाथी की प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि जानवर की मौत का तात्कालिक कारण डूबना था, जिसके बाद फेफड़ों में पानी जाने के कारण फेफड़े फेल हो गए।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लिखा गया हैं कि, “डूबने के बाद फेफड़ों में  पानी भरने से वह खराब हो गए तथा हथिनी की मौत हो गई।”

हालाँकि, रिपोर्ट ने यह भी पुष्टि की कि मादा हाथी को मुंह में एक विस्फोट का सामना करना पड़ा जिसके कारण उसे अपने मुँह में एवं शरीर में कई चोटों का सामना करना पड़ा । इन सबके पश्चात उसने वेल्लियार नदी में शरण ली।

इस बीच, केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का वादा किया है।  उन्होंने कहा, “वन विभाग मामले की जांच कर रहा है और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।” विजयन ने यह भी कहा कि वह इस तथ्य से दुखी हैं कि कुछ लोगों ने इस त्रासदी का प्रयोग नफरत फैलाने वाले अभियान को अंजाम देने के लिए किया हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: