प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपिन रावत और एमएम नरवाने के साथ पहुंचे लेह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत और आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवाने के साथ लेह का दौरा कर रहे हैं। भारत-चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद के मद्देनजर इसे एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम माना जा रहा है।

प्रधानमंत्री आज सुबह लद्दाख के निमु इलाके में मौजूद थे। वहां उन्होंने आर्मी, एयर फोर्स, और आईटीबीपी के जवानों के साथ मुलाकात की। 11000 फीट की ऊंचाई पर स्थित जंस्कार रेंज और सिंधु नदी के किनारों से घिरा हुआ यह कठिन इलाकों में से है।

पिछले 7 हफ्तों से पूर्वी लद्दाख के अलग-अलग इलाकों में भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने हैं। इसी बीच 15 और 16 जून को गलवान घाटी में हुए हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद दोनों देशों ने अपनी अपनी सेनाओं को पीछे हटने का आदेश दिया था। भारत ने अपनी सेना को किसी भी तरह के कार्यवाही करने के लिए पूरी आजादी दे दी है।
भारत में आर्थिक मोर्चे पर चीन को चोट पहुंचाने के लिए उसके Tik Tok, और UC Browser समेत 59 एप्स को भारत में बैन कर दिया। भारत में चीनी उत्पादों के बहिष्कार के नारे भी जोर पर हैं।

इस सीमा विवाद पर पूरे विश्व की नजर बनी हुई है। संयुक्त राष्ट्र कांग्रेस द्वारा नियुक्त एक कमीशन ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि शी जिनपिंग के नेतृत्व में चीन ने भारत के प्रति आक्रामक विदेश नीति को आगे बढ़ाया है। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि चीन का भारत के प्रति सीमा पर यह रवैया उसके वैश्विक आक्रामकता का एक हिस्सा है।

नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से मौजूदा स्थिति में कुछ और डेवलपमेंट्स होने के आसार हैं। उनके साथ सीडीएस बिपिन रावत और आर्मी चीफ नरवाने का मौजूद होना किसी अहम फैसले की ओर इशारा करता है।

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: