दिल्ली के करोल बाग के पास दो पाकिस्तान के हाई कमीशन के एजेंटों को नकली दस्तावेजों के साथ गिरफ़्तार किया गया:

दिल्ली पुलिस: सूत्रों के मुताबिक यह ख़बर मिल रही है कि मिलिट्री इंटेलिजेंस यूनिट बको कुछ हफ़्तों से पहले गूपनिये सूचना जुटाने के लिए भारतीय सेना के जवानों को निशाना बना रहे थे।वह दोनों सेना से जुड़े लोगों से दोस्ती करने की कोशिश कर रहे थे और खुद को भारतीय के रूप पेश कर रहे है।

मिलिट्री एजेंसियों ने अपना कान परस्पर करते हुए:

इसी के तरह मिलिट्री एजेंसियों ने उन पर नज़र रखना प्रारम्भ कर दिया था। और ख़बर यह भी है कि दो आईएसआई एजेंट भारत मे रक्षा प्रतिष्ठानों और सीमा क्षेत्रों को टारगेट बनाने की कोशिश कर रहे हैै | सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान एजेंसी आईएसआई इन दोनों को यह सूचना देगी जिनको निशाना बनाया जाएगा। जब यह जानकारी मिली कि आबिद और ताहिर आर्मी की स्थापना की स्थापना के संबंध में जानकारियाँ और दस्तावेज़ एकजुट करने जा रहे है तभी विशेष सेल और मिलिट्री की टीम ने उन्हें दिल्ली के करोल बाग इलाके में आर्य समाज के बीकानेर वाला चौक के पास पकड़ लिया।

जब पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया तो उन्हें पाकिस्तान की ओर से सारी जानकारियाँ बताने के लिए कहा गया तब उसमे से एक आबिर ने पुलिस कर्मियों को जानकारी देते हुए कहा कि वह दोनों पाकिस्तान के निवासी है और उसका नाम नासिर और गौतम है।साथ ही साथ उनके पास जितने भी डॉक्यूमेंट थे वो भी ले लिए जिसमे उनका आधार कार्ड नकली पाया जाता गया क्यों कि उसमे गौतम की जगह गोतम लिखा था तक जा कर उन दोनों ने यह कबूल किया कि वह दोनों पाकिस्तान से है।
जैसा कि बताया कि यह दोनों पाकिस्तान हाई कमीशन के लिए काम करते थे और इन दोनों को आज पाकिस्तान को सौंप दिया जएगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: