कठिन परिस्थितियों में एक 28 साल के युवा ने कुत्तो की ली जवाबदारी:

vdddddlkdjflkdjlkdjflkj

उत्तर प्रदेश के नोएडा में कोरोना वायरस की इस कठिन परिस्थिति में जहाँ सारे कार्यकाल बंद कर दिए गए वही दूसरी तरफ़ ऐसी विपदा में नोएडा में रहने वाले एक 28 साल के युवा ने रोड पर घूम रहे कुत्तो की देखबाल करेंगे।

उनका कहना है कि एक कठिन परिस्थिति न केवल लोग बल्कि बेज़ुबान कुत्ते भी इसका सामना कर रहे है।ऐसे में यह रेस्टोरेंट, कैंटीन,मार्किट और अन्य स्थानों में भूखे घूम रहे है।

विदित शर्मा जोकि सिर्फ 28 साल के है और वह एक दिल्ली में एक ऑटोमोबाइल कंपनी में काम करते है ऐसे में काम के साथ वह स्ट्रीट में रहने वाले कुत्तो की मदत कर रहे है उनका कहना है वह यह चीज़ दो महीनों से लगातार काम कर रहे है और दिन में दो बार उन्हें खाना खिलाते है ,उनका कहना है कि दो महीनों में एक भी बार ऐसा नही हुआ कि उनको खाना नही दिया हो।

उन्होंने कहा कि यह काम मे 4 साल से कर रहा हु लेकिन लॉकडाउन के कारण अभी बड़े स्तर पर कर रहा हु में दिन में लगभग700 कुत्तो को खाना खिलता हु।
उन्होंने कहा कि वह अलग- अलग क्षेत्र में जाकर लगभग दिन में 700 कुत्ते और45 छोटे बच्चों को खाना देते है और यह दिन ले दो बार करते है।

अभी दिन में निकलने नही देते इसलिए वह यह काम रात में किया करते है।वह रोज़ अलग- अलग खाना देते है जिसमे एक दिन वह100किलो चावल और200अंडे मिलाकर कुत्तो को दिया करते है।

hgdshsgfhdsgfhsgfdsh

दूसरी तरफ़ उनका यह भी कहना रहा कि अभी लॉक डाउन के कारण सड़को पर लोग कम निकल रहे है परंतु एक्सीडेंट के मामले भी ज़्यादा तर सामने आते है और इसलिए मैंने 60 बेल्ट लिए जिसमे प्रत्येक बेल्ट 360 रुपए की आती है।ताकि एक्सीडेंट ना हो।
उनका कहना है कि वह प्रत्येक दिन कुत्तो को खाना खिलाकर तस्वीरें सोशल मीडिया पर डालते है जिसके बाद कही सारे लोग है जो इस काम में मदत कर रहे है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: