कक्षा 4 के विद्यार्थियो ने दिया मुख्यमंत्री राहत फंड में योगदान

कोरोना की मुश्किल घड़ी मे तमिलनाडु के कोयम्बटूर से ऐसी ख़बर आयी है जिसे सुनकर आपके चेहरे पर एक हस्ल्की सी मुस्कान झलक जाएगी| आज चौथी क्लास मे पढने वाली एक छात्रा ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपना योगदान देते हुए 7000 रूपए का दान किया| उस मौके पर  उसके साथ उसका भाई और बहन भी मौजूद थे और उन्होंने मिलकर ये पैसे राहत कोष मे दिए | बच्चों ने ये पैसे नगरपालिका पर्शासन के मंत्री एस.पी वेलुमनी के हाथों मे दिए और मौके पर मौजूद सभी अधिकारीयों और मंत्रियों ने बच्चों की जमकर प्रशंसा की|

WhatsApp Image 2020 05 05 at 12.06.37 PM

Picture Credit:- ANI

गौरतलब है की इस समय देश मे कोरोना से पीड़ित मरीजों की संख्या 46,000 के पार पहुँच चुकी है और कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1500 से ऊपर हो गयी है| अगर तमिलनाडु की बात की जाये तो यहाँ 3550 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं और कोरोना से मरने वालों की गिनती ३१ है जबकि 1409 लोग इलाज के बाद टेस्ट में  कोरोना नेगेटिव पाये गये|

आज के समय में जहाँ देश को कोरोना से बचाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार कई ठोस कदम उठा रही है वहीँ अर्थव्यवस्ता को सुधारने के लिए भी कई पर्यास किए जा रहे हैं| देश को कोरोना की मार से बचाने के लिए लॉकडाउन का समय २ हफ्ते तक बढ़ा दिया गया है मगर ऐसे समय पर भी कुछ लोग लॉकडाउन का पालन न करते हुए घरों से बाहर घूम रहे हैं| ऐसे समय पर देश के लोगों को ज़िम्मेदार नागरिक की भूमिका निभानी चाहिए और लॉकडाउन का पालन करना चाहिये|

देश मे जहाँ कोरोना की वजह से टेंशन का माहौल है वहीं बहुत से लोग ऐसे समय मे सामने आकर देशवासियों की मद्द कर रहे हैं| कुछ लोग जहाँ गरीबो को खाना बांटते दिखे वहीँ बहुत से लोग मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री राहत कोष मे अपना योगदान दे रहे हैं| आज के वक़्त मे जरूरत है तो इन नन्हे बचों से शिक्षा लेने की और देशवासियों को एकजुट होकर इस कोरोना नाम की समस्या से निपटने की| कोरोना को हराया जा सकता है पर इसके लिए जरुरत है देश के सभी नागरिकों के सहयोग की| धेर्य रखें, घर पर रहें, हो सके तो दूसरों की मदद भी करें और बस ऐसे ही जीत जाएगा इंडिया और फिरसे मुस्कुराएगा इंडिया|

Pic courtesy: ANI

Leave a Reply

%d bloggers like this: