खेल करता है रंग में भेदभाव: क्रिस गेल

वेस्ट इंडीज के ओपनर ख़िलाड़ी क्रिस गेल का कहना है की रंग के आधार पर भेदभाव सिर्फ फुटबॉल के खेल तक ही सिमित नहीं है बल्कि क्रिकेट में भी इसका असर देखने को मिलता है| गेल अमेरिका में पुलिस के हाथों मारे गये जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या को लेकर गुस्से में दिखे|

बता दें की पुलिस के अधिकारी ने जब जॉर्ज को पकड़ा तब उनकी गर्दन पर घुटना रख लिया| इससे जॉर्ज को सांस लेने में तकलीफ होने लगी और बार बार उनके ये कहने की मुझे सांस नहीं आ रही है, पुलिस वाले ने उनकी गर्दन से घुटना नहीं उठाया जिससे जॉर्ज की मौत हो गयी| जिस पुलिस वाले ने जॉर्ज की गर्दन पर घुटना रखा था उसपर थर्ड डिग्री कत्ल का मामला दर्ज किया जा चुका है| उसे और मौके पर मौजूद अन्य 3 पुलिस वालों को पुलिस की नौकरी से भी निकाल दिया गया है|

इसपर अपने विचार पेश करते हुए गेल ने कहा की उन्हें भी रंग की वजह से खेल के दौरान  भेदभाव का सामना करना पड़ा है| उनके काले रंग की वजह से उन्हें कई बार आखिर में रखा जा चुका है| उन्होंने कहा की काले लोगों की जिंदगी के भी उतने ही मायने हैं जितने किसी और ज़िन्दगी के| काले लोग मुर्ख नहीं हैं| “हमारे ही जो लोग अपने लोगों की जड़ें काटने में लगे हैं वो संभल जाओ और अक्ल से काम लो| मैंने कई देश विदेश में क्रिकेट की वजह  दौरे किये हैं और अपने सफर के दौरान मुझे कई बार रंग की वजह से भेदभाव का सामना करना पड़ा है” उन्होंने कहा|

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है और पुरे अमेरिका में लोग ब्लैक लाइफ मैटर नामक संघर्ष का हिस्सा बन रहे हैं|सेन फ्रांसिस्को से लेकर बोस्टन तक प्रदर्शन किये जा रहे हैं| आज ही वाइट हाउस के पास एक २०० साल पुराणी चर्च में प्रदर्शनकारियों द्वारा आग लगा दी गयी और उससे तोड़ दिया गया| प्रदर्शनाकरियों ने पुरे यूएस में प्रदर्शन के दौरान जगह जगह पर आगजनी की|

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: