कोरोना से जंग प्रत्येक देश के संग:

110700842 img 3931

जिस प्रकार कोरोना दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है ,यह दुनियाँ के देशों के लिए एक गहरी चिन्ता का विषय बन चुका है । लेकिन देखा जाए तो पहले ही विश्वभर में लाखों लोगों की जान जा चुकी है ,परन्तु अब कोई भी देश अब और ज़्यादा मत्यु नही देख सकता।

कोरोना से लड़ने के लिए तैयारियां जोरों पर:

ताजा खबरों के अनुसार कोरोना वायरस पर जीत पाने के लिएँ एक सुरक्षित, प्रभावी और सुलभ वैक्सीन नोर्डन का क्लीनिकल परीक्षण दूसरे चरण में प्रवेश कर चुका है और विकसित होने के साथ महामारी को रोकने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में देखा जा रहा है।

प्रत्येक देश एक बीमारी से लड़ने में लगा हुआ है:

इस का इलाज खोजने के लिए दुनियाँ भर में अनुसंधान और परीक्षण गति से चलाएँ जा रहे है ताजा खबरों के अनुसार घटनाक्रम में वैक्सीन की दौड़ में सबसे तेज़ चलनी वाली अमेरिकी कंपनी मॉर्डन ने कहा है कि उसने मध्य अवस्था के अध्ययन में मरीजों को खुराक देना शुरू कर दिया है जबकि रूसी वैज्ञानिक परीक्षण शुरू करने की योजना बन रहा है।
साथ ही साथ खबरें यह भी है कि पूरा विश्व कोरोना से जंग जीतने के लिए लगभग 120 वैक्सीन बनाने में लगा हुआ है। जिसमें कम से कम 10 वैक्सीन मनुष्यों पर आज़माई जा रही है जबकि विश्वभर में 60 लाख कैसेस देखे गए है जिसमें 369,254 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

चीन भी अपनी कोशिशों में परस्पर लगा हुआ है:

जहाँ एक तरफ़ सभी देश कोरोना से लड़ने में लगे हुए है उन्ही में एक देश चीन भी हैं जो कोरोना से जंग जीतना चाहते है । ख़बर यह भी है कि चीन का कैनसिनो एडेनोवायरस वैक्सीन, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी का एडेनोवायरस वैक्सीन, मॉडर्न का एमआरएनए वैक्सीन और नोवावैक्स, कोविद -19 के लिए सबसे अधिक आशाजनक वैक्सीन उम्मीदवारों के रूप में उभरे हैं।

यदि हम भारत की बात करे तो 1,82,143के पास पहुँच चुका है।पिछले24 घंटों में 8,380 कैसेस सामने आ चुके है।
अब रामदेव बाबा के साथ पतंजलि ग्रुप भी कोरोना वायरस से जीत प्राप्त करने में मदत करेगा।

89acbc559d0681106dca52d15fc30317

Leave a Reply

%d bloggers like this: